बिना कोचिंग यूपीएससी आईएएस परीक्षा की तैयारी कैसे करें।

कोचिंग के बिना आईएएस की तैयारी कैसे करें।


How to Clear IAS without Coaching

क्या कोचिंग के बिना आईएएस परीक्षा में सफलता मिल सकती है? आपने इस प्रश्न को उम्मीदवारों और मीडिया के माध्यम से अधिकतर पूछा और सुना जाता है। यहां इस लेख में हमने विभिन्न टॉपर्स व अनुभवी उम्मीदवारों के विभिन्न उत्तरों द्वारा इस विषय को समझने का प्रयास किया है, जो इस पर निर्भर करता है कि क्या उन सभी ने कोचिंग की मदद ली थी या फिर नहीं।

क्या मैं कोचिंग क्लासेस के बिना आईएएस परीक्षा पास कर सकता हूं?

इसका उत्तर है, हां आप पास कर सकते हैं। किन्तु यह सब व्यक्ति/अभ्यर्थी की अध्ययन की क्षमता पर भी निर्भर करता है। अगर आप यूपीएससी के पिछले परिणामों पर एक नजर डालें तो आप पाएंगे कि ऐसे उम्मीदवारों के कई उदाहरण हैं जिन्होंने बिना किसी कोचिंग के आईएएस परीक्षा में सफलता प्राप्त की और बिना किसी विशेष आर्थिक लागत और रात-रात भर जागे बिना ही अपने सपनों को पूरा किया।


क्या कोचिंग करना गलत है?

नहीं; जब तक आपका संस्थान आपको गुमराह न कर रहा हो। आईएएस परीक्षा मे सफल होने वाले उम्मीदवारों की जांच करने पर हम यह भी देख सकते हैं, कि इस परीक्षा की तैयारी के लिये उन्होंने कोचिंग के बिना और कोचिंग के साथ-साथ  तैयारी की थी। और कुछ लोगों ने तो इस परीक्षा की तैयारी लिए नौकरी भी छोड़ दी, और कुछ लोगों ने काम करते हुए भी सही समय में यह परीक्षा पास की है।


क्या मुझे कोच की आवश्यकता है?

यदि हम किसी प्रतिभाशाली क्रिकेटर का उदाहरण लें तो हम ये समझ सकते हैं कि, उसमें बेहतर खेलने की एक प्रतिभा तो है। लेकिन फिर भी वे कई कोचों के तहत ट्रेनिंग / कोचिंग क्यों लेते हैं?

अब इसी प्रश्न को यदि दूसरी तरह से समझें तो यदि हम सभी अपने स्कूल/कालेज के समय में अपनी पुस्तकों को स्वयं ही पढ़नें सक्षम थे "तो फिर हमें स्कूल जाने की क्या अवश्यकता थी"?

यदि हम कोच और सलाहकार के बिना सफलता प्राप्त करने के बारे में सोंचते हैं, तो बेशक ऐसे कई उदाहरण हैं जिन्होंने बिना गुरु के अद्वितीय सफलता प्राप्त ही जैसे कि महाभारत में एकलव्य ने किया। हालांकि यह उदाहरण बहुत ही पुराना है किन्तु, आधुनिक दुनिया से भी ऐसे बहुत से उदाहरण भी मिल जाएंगे जिन्होंने स्वयं परिश्रम करके उत्कृष्ट उपलब्धि व स्थान प्राप्त किये।

इस बात में भी कोई संदेह नहीं है कि एक अच्छे मार्गदर्शन में मिलने वाले स्पष्ट ज्ञान से छात्रों को सफलता प्राप्त करने में मदद मिलती हैं। ध्यान दें, कि ऐसा कहकर हमारा यह मतलब नहीं है आईएएस परीक्षा में सफल होने के लिए आपको कोचिंग संस्थानों में भाग लेना अनिवार्य है। उदाहरण के लिये, क्योंकि आप पहले से ही स्नातक हैं तो वैकल्पिक विषयों के अलावा परीक्षा में अन्य विषयों पर पूछे गए प्रश्नों के लिए किसी विशेष अध्ययन की आवश्यकता नहीं है। किन्तु यह इस पर भी निर्भर करता है कि आपके द्वारा चुने गये वैकल्पिक विषय का अध्ययन आपने अपने स्नातक स्तर पर किया हो, और यदि वह विषय आपके लिये नया है तो उस विषय में आवश्यक समझ विकसित करने के लिये आपको मार्गदर्शन की आवश्यकता होती है।

इसके अतिरिक्त और भी ऐसे कारण हैं जिन्हें हमें समझना चहिये। उदाहरण के लिये जैसे:

  • क्या आप आप सीमित और उपयुक्त समय में इस परीक्षा के विशाल पाठ्यक्रम को पूरा कर सकते हैं?
  • आपको यह नहीं पता कि कहां से शुरू करना है और क्या अध्ययन करना है?
  • यूपीएससी परीक्षा तैयारी के लिये कौन-कौन सी किताबें और पत्रिकाओं का चुनाव किया जाए?

जैसा कि हम पहले भी समझ चुके हैं, कि यह मदद एक अच्छा ही कर सकता है, लेकिन केवल एक अच्छा कोच!


एक अच्छे कोच के क्या लक्षण होते हैं?

यूपीएससी परीक्षा के लिये कुछ प्रमुख अनिवार्य आवश्यकतायें होती है जैसे:

  • सही मार्गदर्शन (तैयारी की रणनीतियां व युक्तियां)
  • विषयगत ज्ञान (अध्ययन सामग्री और नोट्स)

एक अच्छा कोच या एक अच्छा कोचिंग संस्थान इन दोनों अनिवार्यताओं को प्रदान करने में सक्षम होना चाहिए यदि आपको कोचिंग संस्थान से प्रासंगिक और नवीनतम रणनीतियों के साथ मार्गदर्शन प्राप्त नहीं हो रहा हैं, तो वहां हजारों लाखों रुपये खर्च करने के बाद भी, कोचिंग कक्षाओं में भाग लेने का कोई अर्थ नहीं है। कभी-कभी, आप उन छात्रों को देखा होगा जो कोचिंग कक्षाओं द्वारा गुमराह होने के कारण यूपीएससी परीक्षा को पास करने में विफल रहते हैं।


कोचिंग क्लासेस के बारे में कुछ तथ्य

कक्षा कोचिंग: ध्यान रखें कि सभी कोचिंग संस्थान  बुरे नहीं हैं, और ऐसी बहुत से अच्छे कोचिंग संस्थान हैं जो अभ्यर्थियों के धन नहीं बल्कि उनके लक्ष्य को पूरा कराने व गुणवत्ता वाली शिक्षा प्रदान करने के प्रयासों को महत्व देते हैं। इसलिये केवल कोचिंग संस्थानों की उच्च प्रतिष्ठा को माध्यम बना कर  उनमें शामिल न हों, बल्कि उनके द्वारा दिये वास्तविक परिणामों और उनकी ऐतहासिक पृष्ठभूमि के बारे समझ कर ही निर्णय लें।

जैसा कि हम समझते हैं कि कोचिंग क्लास आपको केवल गाइडेंस और ज्ञान प्राप्त कराने का माध्यम है। किन्तु इसके अलावा वर्तमान समय में ऑनलाइन अध्ययन सामग्रियों व सूचनाओं जानकारियों की उपलब्धता भी एक अन्य विकल्प के रूप में मानी जाती हैं। हमारा यह भी तात्पर्य नहीं है, कि आप सभी को तैयारी के लिये आज से इस वेबसाइटों की छान-बीन को शुरू करना चाहिए। और यदि आप ऐसा करते भी हैं तो बेशक आप कर सकते हैं, और हमें यह उम्मीद है कि इससे कोई नुकसान नहीं होगा बल्कि यह आपके लिये फायदेमंद ही होगा।

हमारी वेबसाईट आईएएस प्लैनर डाट काम के अलावा भी कई अन्य अच्छी-अच्छी ऑनलाइन कोचिंग वेबसाइटें भी हैं जिन्हें आईएएस उम्मीदवारों के समुदाय द्वारा मूल्यवान व उपयोगी माना जाता है, और जिन पर आप भरोसा कर सकते हैं। अब यह कहना भी अनुचित नहीं होगा एक अच्छी ऑनलाइन आईएएस वेबसाइट्स कई कोचिंग सेंटरों की तुलना में बहुत सी मुफ़्त सेवाएं प्रदान करती हैं, जिनके लिये कोचिंग सेंटर आपसे उनके मार्गदर्शन के लिए लाखों रुपये चार्ज करते हैं।


आपको सिविल सेवा परीक्षा कोचिंग की आवश्यकता कब होती है?

आईएएस कोचिंग क्यों?

  • यदि आप यूपीएससी पाठ्यक्रम, नवीनतम पैटर्न, आईएएस किताबों के बारे में पूरी तरह से अनजान हैं और अपने लिये एक रणनीति तैयार नहीं कर सकते हैं।
  • यदि आपके पास समय कम है (परीक्षा से पहले 2 या 3 महीने पहले), तब आपको एक क्रैश कोर्स की जरूरत है।
  • यदि आप एक ऐसे व्यक्ति हैं, जो अकेले रहने या तैयारी करने में आत्मविश्वास महसूस नहीं करते।
  • यदि आप सिविल सेवा मुख्य परीक्षा देना चाहते हैं और आपके द्वारा चयनित वैकल्पिक विषय में आपको बहुत ही कम ज्ञान हो, व उसके लिये सटीक रणनीति का अभाव हो।

आप उन सभी अच्छी वेबसाइटों की मदद लें जो आईएएस अध्ययन सामग्री और मार्गदर्शन प्रदान करती है। इसके अतिरिक्त  नि:शुल्क शिपिंग और कैश ऑन डिलीवरी की सुविधा का लाभ उठाते हुए, भारतीय प्रशासनिक सेवा के लिए आवश्यक सभी पुस्तकों को प्राप्त कर सकते हैं। और यदि आप ये सब भी नहीं जुटा सकते, तब आपको एक अच्छे कोचिंग संस्थान  से जुड़ना चाहिये।


आपको सिविल सेवा परीक्षा कोचिंग की आवश्यकता कब नहीं होती है?

  • जब आपको यह पूर्णत: विश्वास हो, कि आप अपनी खुद की मेहनत और सूझबूझ से यह एग्जाम क्रैक कर सकते हैं।
  • जब आप आश्वस्त हों कि आप यूपीएससी के पटर्न को अच्छी तरह समझते हैं और तदनुसार रणनीति बना कर अध्ययन कर सकते हैं, तो कोचिंग संस्थानों की आवश्यकता ना के बराबर हो जाती है।
  • यदि आप भारत में जेएनयू या आईआईटी जैसे शीर्ष संस्थानों में से किसी एक में अध्ययन प्राप्त अभ्यर्थी रह चुके हों और आपको विभिन्न विषयों के बारे उपयुक्त जानकारी पहले से ही हो।
  • यदि आपने पहले से ही एक कोचिंग के साथ इस परीक्षा का प्रयास किए हों। (यानि आपको पहले से ही पैटर्न, आवश्यक किताबें और पाठ्यक्रम पता हो तथा एक बार फिर कक्षाओं समय देने पर आप ऊब महसूस करें)।
  • यदि आप पिछले वर्ष सवालों व परीक्षा संबंधी गतिविधियों के गंभीर विश्लेषक हैं।

जैसा कि हम देख सकते हैं कि संघ लोक सेवा आयोग ने आईएएस कोचिंग और उनके द्वारा किये जाने वाले स्पून फीडिंग के प्रभाव को कम करने के लिए कई महत्वपूर्ण प्रयास किए हैं। इसके अंतर्गत पारंपरिक सवालों के बिना नये परीक्षा पैटर्न में परिवर्तन करने और उन सवालों का समावेश जिनमें विश्लेषणात्मक समझ की आवश्यकता हो, और साथ-साथ एक ऐसी आईएएस चयन प्रकिया जहां कोचिंग संस्थान ज्यादा या रटी-रटाई बातों से मदद न कर सकें।

निष्कर्ष:  एक सिविल सेवा अभ्यर्थी बिना कोचिंग के आईएएस परीक्षा पास कर सकते हैं।

यह निष्कर्ष संक्षेप में है कि, आप कोचिंग के बिना भी आईएएस परीक्षा को पास कर सकते हैं लेकिन यह 'हर कोई' नहीं कर सकता, क्योंकि यह आपके आत्म-अध्ययन व क्षमता पर निर्भर करता है। यदि आप आत्म-अध्ययन और सेल्फ कॉन्फिडेंस में अच्छे हैं, तो आप बिना किसी कक्षा कोचिंग के भी यूपीएससी की इस परीक्षा में सफलता पा सकते हैं।

कृपया ध्यान दें।

आज के समय में ऑनलाइन कोचिंग की बहुत सी वेबसाइटें हैं जो गुणवत्ता मार्गदर्शन और अध्ययन सामग्री भी प्रदान करती हैं। किन्तु, यह समझें कि कोई भी कोचिंग संस्थान या ऑनलाइन वेबसाइट उम्मीदवार को आईएएस अधिकारी नहीं बना सकती है,  जबकि वे सभी इस बात का दावा करते हैं। इसलिये इस संयोजन को हम 50-50 (fifty-fifty) के रूप में वर्णित कर सकते हैं: एक अच्छा कोचिंग संस्थान आपकी सफलता में 50% भूमिक निभाता है, लेकिन जब तक उम्मीदवार अगले 50% प्रयास नहीं करता है, वह आईएएस अधिकारी नहीं बन सकता है।

IAS Planner Website के माध्यम से हम आईएएस अभ्यर्थियों की मदद करने का निरंतर प्रयास कर रहे हैं। हमें यह पूर्ण विश्वास भी है, कि धन, समय और दूरी के इस बैरियर को समाप्त कर, गुणवत्ता वाली इस अध्ययन प्रणाली के द्वारा हम सभी उम्मीदवारों की भरसक सहायता कर सकें। आशा है कि इस लेख से आप सभी को मदद मिलेगी। शुभकामनाएं!


data-matched-content-ui-type="image_card_stacked"

Go to Monthly Archive