आईएएस परीक्षा के लिए तैयारी शुरू करने का सही समय क्या है।

ऐसे बहुत से अभ्यर्थी हैं जिनके मन में एक आम दुविधा रहती है कि सिविल सेवा परीक्षा (आईएएस) की तैयारी शुरू करने के लिए सही उम्र और समय क्या है। इस लेख में हम इस प्रकार की समस्याओं पर चर्चा करेंगे और उनका निवारण करने की कोशिश करेंगे और अभ्यर्थियों एक स्पष्ट तस्वीर देने की कोशिश करेंगे ताकि आप अपनी तैयारी को सही समय पर और सही तरीके से शुरू कर सकें।

http://www.iasplanner.com/civilservices/images/when-to-start-IAS-preparation.jpgआईएएस के लिए तैयारी शुरू करने के लिए कोई विशेष उम्र निर्धारित नहीं होती है। लेकिन ज्यादातर आईएएस उम्मीदवार 21 या 22 साल की आयु में स्नातक होने के बाद इस परीक्षा की तैयारी शुरू करते हैं। लेकिन, इनमें से कई एसे उम्मीदवार भी हैं जो बाद में नागरिक सेवा में शामिल होने के लिए प्रयास करते हैं और 26 या 28 साल बाद तैयारी शुरू करना चाहते हैं। और हम सभी ने ऐसे उम्मीदवारों को भी देखा है जिन्होंने 31 वर्ष की उम्र में परीक्षा दी और पहले ही प्रयास में सफलता प्राप्त की।

स्कूल जाने वाले छात्र के लिए टिप्स


स्कूल जाने वाले छात्रों के पास इस परीक्षा में आवेदन करने और इसके लिये योग्य होने के लिये पर्याप्त समय है और इस समय में आपको रणनीति और पुस्तकों के बारे में बहुत ज्यादा चिंता नहीं करनी चाहिए, जैसे कि क्या पढ़ने की आवश्यकता है या आप के लिए कौन सा वैकल्पिक विषय सही रहेगा, कोचिंग करूं या ना करूं इत्यादि। हालांकि हमारा यह मतलब कतई नहीं है कि आपको आईएएस की तैयारी के लिए पढ़ना नहीं चाहिए बल्कि हम जो कहने की कोशिश कर रहे हैं उसका तात्पर्य यह है कि अभी जब तक आप स्कूल जाने वाले छात्र है इसे अपना प्राथमिक लक्ष्य न बनाएं। आपका प्राथमिक लक्ष्य, पूर्ण ध्यान व समर्पण के साथ अपनी विद्यालय की शिक्षा को पूरा करना है और आईएएस की तैयारी आपका दूसरा लक्ष्य होना चाहिए।

कॉलेज जा रहे छात्र के लिए टिप्स


आपको मुख्य रूप से अपने स्नातक स्तर की परीक्षा की तैयारी पर ध्यान देना चाहिए और यदि आप आईएएस परीक्षा की गंभीरता से तैयारी शुरू करना चाहते है तो स्नातक शिक्षा के अंतिम वर्ष या अध्ययन से समझौता किए बिना इसके कुछ समय पहले से ही आप शुरूआत कर सकते हैं क्योंकि आपको अपने स्नातक स्तर की पढ़ाई में सुधार करने का दूसरा मौका नहीं मिलेगा, किन्तु आईएएस परीक्षा में आपको यह मौका मिल जाता है।

एक अच्छे आईएएस अभ्यर्थी को यह समझना चाहिये कि अपनी वर्तमान स्थिति में उसे क्या पढ़ना चाहिए, और इसके बारे में विस्तार से पहले आइएएस परीक्षा की संरचना और उसका व्यापक पाठ्यक्रम / सिलेबस का अच्छे से अध्ययन करना चाहिये। आईये अब हम इस परीक्षा के सिलेबस और उसका प्रारूप समझते हैं:

प्रारंभिक परीक्षा

  • सामान्य अध्ययन
  • सी-सैट (सिविल सर्विसेज एप्टीट्यूड टेस्ट)

मुख्य परीक्षा

  • सामान्य अध्ययन
  • वैकल्पिक विषय
  • निबंध

साक्षात्कार (पर्सनालिटी टेस्ट)

  • व्यक्तिगत उपयुक्तता का मूल्यांकन।

विस्तृत जानकारी के लिये इसे पढ़ें यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा पैटर्न एवं पाठ्यक्रम

आपको अपने स्कूल स्तर में क्या तैयार करना चाहिए?


अब जीएस पेपर में विभिन्न विषयों को देखते हुए हम अब वास्तविक तैयारी योजना में उतर सकते हैं। इस समय में आप वर्तमान मामलों को तैयार कर सकते हैं और अपने सामान्य ज्ञान के आधार का निर्माण कर सकते हैं, जो बाद में आपकी आईएएस परीक्षा की पूर्णकालिक तैयारी करते समय काम आयेगी।

आपको वर्तमान मामलों (करंट अफेयर्स) को कैसे तैयार करना चाहिए?


वर्तमान मामलों की तैयारी के लिए दैनिक समाचार पत्र सबसे अच्छा स्रोत है। सिविल सेर्विसेस परीक्षा की तैयारी के दौरान समाचार पत्र पढ़ना आपकी दैनिक आदत होनी चाहिए । स्कूल स्तर में समाचार पत्रों से अभी कोई नोट्स बनाने आवश्यकता नहीं है। शुरू मे आपको बिना यह सोंचे अखबार पढ़ना है कि परीक्षा के लिए क्या प्रासंगिक है और क्या नहीं, और जो नहीं है उसे लेकर आपको बिना परेशान हुये पूरे समाचार पत्र को पढ़ सकते हैं।


data-matched-content-ui-type="image_stacked"