यूपीएससी आईएएस मुख्य परीक्षा की तैयारी कैसे करे।

यूपीएससी मेन्स एग्जाम की तैयारी के लिए रणनीति?


http://www.iasplanner.com/civilservices/images/upsc-mains-exam.jpg

यूपीएससी मेन परीक्षा की तैयारी एक उम्मीदवार के भाग्य का निर्णय लेने में एक प्रमुख भूमिका निभाती है। यूपीएससी सिविल सर्विस मेन परीक्षा अक्टूबर के महीने में आयोजित की जाएगी। यहां इस लेख में हम यूपीएससी मुख्य परीक्षा में सफलता प्राप्त करनें के लिये तैयारी के कुछ तरीके बता रहे हैं।

यूपीएससी सिविल सेवा मुख्य परीक्षा


इस परीक्षा में निम्नलिखित नौ (9) प्रश्न पत्र शामिल हैं।

  • पेपर 1: निबंध (कुल 250 अंक)
  • पेपर 2: इंग्लिश - English पेपर (कुल 250 अंक)
  • पेपर 3: भारतीय भाषा - Indian Language (कुल 250 अंक)
  • पेपर 4: जनरल स्टडीज - GS पेपर 1 (कुल 250 अंक)
  • पेपर 5: सामान्य अध्ययन - GS पेपर 2 (कुल 250 अंक)
  • पेपर 6: जनरल स्टडीज -  GS पेपर 3 (कुल 250 अंक)
  • पेपर 7: जनरल स्टडीज - GS पेपर 4 (कुल 250 अंक)
  • पेपर 8: वैकल्पिक - पेपर 1 (कुल 250 अंक)
  • पेपर 9: वैकल्पिक - पेपर 2 (कुल 250 अंक)

निबंध के लिये रणनीति


उचित रणनीतियों के साथ निबंध के इस पेपर को तैयार करना बहुत आसान है। यदि आप अपने विचारों और समझ को स्पष्ट व व्यवस्थित तरीके से लिख सकते हैं, तो एक अच्छा निबंध लिखने के लिए श्रेय आपको अवश्य मिलेगा। विषयों का विस्तृत अध्ययन और नियमित रूप से उत्तर अभ्यास इस कौशल को प्राप्त करने की कुंजी है।

निबंध लेखन के लिए कुछ युक्तियाँ:

  • समसामयिकी के प्रमुख मामलों का एक ट्रैक रखें और अपडेट रहें।
  • राष्ट्रीय समाचार पत्रों के संपादकीय को अवश्य पढ़ें, इससे आपके भीतर विचार-प्रक्रिया का विकास होगा।
  • योजना और कुरुक्षेत्र पत्रिकाओं पढ़ें

अंग्रेजी पेपर और भारतीय भाषा प्रश्न पत्र


अंग्रेजी प्रश्न पत्र के लिए उम्मीदवारों को अंग्रेजी का बुनियादी ज्ञान होना चाहिए। अंग्रेजी के अख़बार इस के लिए एक प्रमुख स्रोत रहेंगे, और क्षेत्रीय (भारतीय)  भाषा के प्रश्न पत्र के लिये उम्मीदवारों का उनकी क्षेत्रीय भाषा की अच्छी समझ चाहिए। क्षेत्रीय भाषा के अख़बारों और पत्रिकाओं को पढ़ना भी आपको इस पत्र की तैयारी में मदद करेगा।

जनरल स्टडीज (मुख्य परीक्षा) पेपर - 1

  • कला और संस्कृति: उम्मीदवार नितिन सिंघानिया के नोट्स से अध्ययन कर सकते हैं, सीसीईआरटी और एनसीईआरटी पुस्तकों का उपयोग इस क्षेत्र के लिए पर्याप्त होगा। उम्मीदवार कला और संस्कृति से जुड़े लेखों तथा घटनाओं के माध्यम से कई महत्वपूर्ण विषय वस्तुओं को समझ सकते हैं।
  • इतिहास: आधुनिक इतिहास के लिए एनसीईआरटी और स्पेक्ट्रम से पढ़ना पर्याप्त रहेगा। इसके साथ ही, अपने उत्तर लेखन की गति बढ़ाने के लिए उन्हें उत्तर लेखन का भी अभ्यास करना चाहिए।
  • भारतीय समाज: इस क्षेत्र से निपटने के लिए उम्मीदवार को वर्तमान मामलों के साथ अच्छी तरह से अपडेट रहना चाहिए। इस विषय से संबंधित पत्रिका और लेखों को पढ़ना आपको बेहतर उत्तर लिखने में मदद करेगा।
  • भूगोल: भूगोल विषय पर मूल एनसीईआरटी (11वीं कक्षा और 12वीं कक्षा), खुल्लर जैसी अन्य मानक पुस्तकों से अध्ययन करना पर्याप्त है।

जनरल स्टडीज (मुख्य परीक्षा) पेपर - 2

  • शासन, संविधान, राजनीति और सामाजिक न्याय: लक्ष्मीकांत, पीआईबी लेखों और अखबार में दी गयी संबंधित जानकारी इस भाग की तैयारी के लिए पर्याप्त हैं। उम्मीदवारों को सामान्य जानकारी और वर्तमान मामलों की अच्छी समझ होनी चाहिए।
  • अंतर्राष्ट्रीय संबंध: इस क्षेत्र की तैयारी के लिए समाचारपत्र सबसे अच्छा विकल्प है।

जनरल स्टडीज (मुख्य परीक्षा) पेपर - 3

  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी (Science & Technology) के क्षेत्र में हुये वर्तमान विकास पर ध्यान दिया जाना चाहिए। अख़बारों साथ-साथ साइंस रिपोर्टर जैसी कुछ पत्रिकाओं का उपयोग उम्मीदवारों को इस क्षेत्र से परिचित होने में मदद करेंगा।
  • आर्थिक विकास (Economic Development): इसमें भी वर्तमान मामलों के साथ-साथ उम्मीदवारों को अर्थशास्त्र की बुनियादी अवधारणाओं का पूरा ज्ञान होना चाहिए। आर्थिक सर्वेक्षण, ईपीडब्लू (EPW), इकोनामि टाइम्स के संपादकीय तथा एनसीईआरटी पुस्तकें इसके अध्ययन में मदद करेंगे।
  • पर्यावरण और जैव विविधता (Bio-diversity, Environment): यह भाग भूगोल के कुछ हिस्सों के साथ ओवरलैप करता है या मिलता जुलता है। इंडिया ईयरबुक, एमओईएफ की आधिकारिक वेबसाइट और जैव विविधता से जुड़ी पुस्तकें, अख़बार, योजना और कुरुक्षेत्र, एनआईओएस (NIOS), इग्नू सामग्री (IGNOU Material) इत्यदि से तैयारी में मदद मिलेगी।
  • सुरक्षा और आपदा प्रबंधन (Security and Disaster Management): आपदा प्रबंधन पर समाचार पत्र और संबंधित लेख इस भाग की तैयारी में आपकी सहायता करेंगे। एआरसी रिपोर्ट (ARC Report), आईडीएसए (IDSA), और विकीपीडिया उपयोगी रहेगा।

जनरल स्टडीज (मुख्य परीक्षा) पेपर - 4

  • नैतिकता, ईमानदारी और योग्यता (Ethics, Integrity, and Aptitude): इस प्रश्नपत्र के उत्तरों के लिये अभ्यर्थी में आचार-विचार की बुनियादी समझ और सूझबूझ की योग्यता होना चाहिए। इस पेपर से निपटने के लिए अभ्यर्थियों को पिछले साल यूपीएससी प्रश्नपत्रों को हल करने की सलाह दी जाती है। ध्यान रहे, कि उत्तर लेखन का अभ्यास और सही टेस्ट सीरीज से अभ्यास सिविल सर्विस मेन्स परीक्षा में सफलता देने में महत्वपूर्ण योगदान देंगे।

अन्य उपयोगी लेख



Report Error or Discrepancy

data-matched-content-ui-type="image_card_stacked"

Go to Monthly Archive